34.1 C
New Delhi
Friday, June 14, 2024

प्राइम वीडियो ने ओरिजिनल सीरीज, अक्कड़ बक्कड़ रफू चक्कर का ट्रेलर लॉन्च किया

प्राइम वीडियो ने आज अपकमिंग ओरिजिनल क्राइम-ड्रामा, अक्कड़ बक्कड़ रफू चक्कर का ट्रेलर लॉन्च कर दिया। फर्जी बैंक की शाखा खोलकर घोटाला करने का फैसला करने वाले दो दोस्तों की कहानी वाले, इस 10-पार्ट सीरीज के निर्माता और निर्देशक स्वर्गीय राज कौशल हैं। अमन खान द्वारा लिखी गई यह वेब सीरीज राज कौशल का आखिरी डायरेक्टोरियल वेंचर है। दुनिया भर के 240 से अधिक देशों और क्षेत्रों में 3 नवंबर, 2021 को प्राइम वीडियो पर रिलीज होने के लिए तैयार है।

असली जिंदगी के एक घोटाले से प्रेरित, सीरीज भार्गव और सिद्धांत नाम के दो दोस्तों की रोचक कहानी है, जो अपने खुद के संघर्षों व जीवन में नाकामी से निराश होकर भारत की पहली नकली बैंक शाखा खोलने के लिए एक साथ आते हैं। एक छोटे से शहर होशियारगढ़ से शुरू होकर यह भारत के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले में तब्दील होता है। बेहतर जिंदगी के सपने को पूरा करने के लिए गलत रास्ता अख्तियार करने की रोचक कहानी है। सीरीज के आगे बढ़ने के साथ, कहानी दर्शकों को एक रोमांचक सफर पर ले जाती है, जिसमें इन-फाइटिंग, गिरता स्वास्थ्य, भावनात्मक उथल-पुथल और एक सरप्राइज किडनैपिंग सहित सब कुछ है।

प्राइम वीडियो इंडिया के कंटेंट लाइसेंसिंग के हेड, मनीष मेंघानी ने कहा “प्राइम वीडियो में, हम देश भर से विभिन्न टेस्ट और विविध पृष्ठभूमि वाले उपभोक्ताओं की जरूरतों को पूरा करते हैं। हमारा लक्ष्य हमेशा से ऐसे किरदारों से जुड़ी कहानियां पेश करना रहा है जो हमारे दर्शकों के साथ रेजोनेट करती हों। एक्शन, ड्रामा, रोमांस और रोमांच के दिलचस्प मिश्रण वाले अक्कड़ बक्कड़ रफू चक्कर को, इस तरह से प्रस्तुत किया गया है जो दर्शकों को पूरी फिल्म के दौरान बांधकर रखेगी। रिफ्यूल प्रोडक्शंस के साथ पार्टनरशिप को लेकर हम बेहद एक्साइटेड हैं और स्वर्गीय राज कौशल जी की बेव सीरीज को अपनी सर्विस के तहत लाने को अपनी खुशकिस्मती मानते हैं। हम विविधतापूर्ण, दर्शकों के साथ तारतम्य बिठाने वाली और चुनने की शक्ति उनके हाथों में देने वाली, लाइब्रेरी तैयार करना जारी रखेंगे”

इस बारे में बताते हुए सीरीज की सह-निर्माता मंदिरा बेदी ने कहा, “राज कौशल जी में अपने काम को लेकर दीवानगी थी। जब भी उनको कोई अच्छा आइडिया आता था, उनकी आंखो में चमक और उनके स्टेप में एक नया उत्साह आ जाता था। अक्कड़ बक्कड़ के लेखन और निर्माण के दौरान भी उनकी आंखों में वही चमक और ऊर्जा थी। उनके विश्वास और जुनून ने ही उन्हें अपने बेहतरीन काम के लिए प्रेरित किया और शो में यही देखने को मिलता है। अपने काम को उसकी असली मंजिल तक पहुंचता देखने के लिए वे हमारे बीच नहीं है, ये बात मेरा दिल तोड़ देती है। लेकिन उनके शो को देखने और उनके आखिरी काम को दर्शकों तक पहुंचाने के लिए मैं प्राइम वीडियो की बेहद शुक्रगुजार हूं। मुझे उम्मीद है कि दर्शक इसे उतना ही पसंद करेंगे, जितना राज कौशल जी ने इसे बनाने में किया है।”

अक्कड़ बक्कड़ रफू चक्कर का निर्माण रिफ्यूल प्रोडक्शंस ने किया है और यह प्यार में कभी कभी… (1999), शादी का लड्डू (2004) और एंथनी कौन है? (2006) जैसी फिल्मों के लिए पहचान रखने वाले दिवंगत राज कौशल का आखिरी डायरेक्टोरियल वेंचर है।

सार: “अच्छी जिंदगी” पाने के लिए सिर्फ एक घोटाला करना है। देश में हुए कुल लगभग 71,500 करोड़ रुपयों के बैंक घोटालों की अनगिनत खबरें पढ़ने के बाद भार्गव और सिद्धांत नाम के दो दोस्तों के मन में यह विचार घर कर लेता है। दोनों मिलकर भारत का पहला नकली बैंक खोलने की योजना बनाते हैं, लोगों से उसमें पैसे जमा करवाते हैं और फिर इन पैसों के साथ देश छोड़ कर भाग जाते हैं। क्या वे भाग पाएंगे, या पकड़े जाएंगे?

Related Articles

Latest Articles